बुधवार को जेरुसलम को इजरायल की राजधानी के रूप में अमेरिका द्वारा मान्यता दिए जाने के फैसले के बाद फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने कहा कि जेरुसलम फिलिस्तीन की राजधानी के रूप में हमेशा रहेगा.

उन्होंने ट्रम्प के फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि यह सभी अंतर्राष्ट्रीय और द्विपक्षीय प्रस्तावों का उल्लंघन करता है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, अब्बास ने कहा कि इस मामले में इजरायल को कोई भी रियायत नहीं दी जाएगी. उन्होंने कहा कि जेरुसलम फिलिस्तीन की शाश्वत राजधानी है.

अब्बास ने कहा, “जेरुसलम पर अमेरिका के निर्णय के बाद हमारा राष्ट्रीय फिलिस्तीनी मुद्दा दोराहे पर आ गया है.” उन्होंने कहा, “फिलिस्तीनी एकजुट रहेंगे और जेरुसलम, शांति और स्वतंत्रता की रक्षा करने और राष्ट्रीय स्वतंत्रता प्राप्त करने कामयाब होंगे.”

इसी बीच अमेरिका के रक्षा मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा कि विदेश विभाग राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आदेश पर ‘तत्काल’ कार्य करेगा और इजरायल में अमेरिकी दूतावास को तेल अवीव से जेरुसलम स्थानांतरित की तैयारी शुरू करेगा.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE