pal11

फिलिस्तीनी संगठन पीएलओ के वरिष्ठ नेता ने इजराइल और आतंकवाद को एक-दुसरे का पर्याय बताया हैं. उन्होंने कहा कि आतंकवाद का अंत, फिलिस्तीन पर इस्राईल के अवैध क़ब्ज़े को खत्म किये बिना संभव नहीं है.

पीएलओ के वरिष्ठ सदस्य और फिलिस्तीनी वार्ताकार साइब उरैक़ात ने फ्रांस की राजधानी पेरिस में कहा है कि अमरीका का कहना है कि वह आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष कर रहा है किंतु उसे जान लेना चाहिए कि जब तक फिलिस्तीन पर इस्राईल का अवैध क़ब्ज़ा बाकी रहेगा, आतंकवाद के विरुद्ध उसका अभियान सफल नहीं होगा.

और पढ़े -   रियाद में जी-20 बैठक के आयोजन के विरोध में आया फ्रांस

उरैक़ात ने कहा कि आतंकवाद का अंत, समस्त विश्व वासियों की इच्छा है किंतु अवैध अधिकृत फिलिस्तीन पर इस्राईल के क़ब्ज़े और उसकी ओर से प्रायोजित आतंकवाद की अनदेखी नहीं करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि दो स्वाधीन राज्यों के गठन के प्रस्ताव और सन 1967 की सीमाओं के साथ फिलिस्तीनी राज्य के गठन के संदर्भ में हम विश्व समुदाय की ओर से लापरवाही देख रहे हैं.

और पढ़े -   यमन में 4.5 मिलयन बच्चे स्कूल नहीं जा सकते : संयुक्त राष्ट्र

उहोने आगे कहा कि फिलिस्तीन पर अवैध क़ब्ज़ा है इसी लिए हम अपने दोस्तों से अपील करते हैं कि वह यथाशीघ्र स्वाधीन फिलिस्तीनी देश को औपचारिकता प्रदान करें.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE