फ़िलिस्तीन के इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन हमास के वरिष्ठ सदस्य महमूद जहार ने ज़ायोनी शासन को क्षेत्र और समस्त इस्लामी देशों का शत्रु बताया और इस्लामी जगत को तबाह करने के बारे में इस शासन के षड्यंत्रों की ओर से सचेत किया है।

लेबनान के अलमयादीन टीवी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार हमास के वरिष्ठ नेता महमूद ज़हार ने सचेत किया है कि इस्लामी देशों को चाहिए कि वह इस्लामी जगत के पहले शत्रु के रूप में इस शासन की ओर से होशियार रहें और एकता व एकजुटता के साथ इस्लामी जगत की शक्ति को क्षीण करने के लिए इस शासन के षड्यंत्रों को रोकने का का प्रयास करें।

महमूद ज़ेहार ने ग़ज़्ज़ा पट्टी के विरुद्ध फ़िलिस्तीनी प्रशासन के हालिया फ़ैसलों और ज़ायोनी शासन की जेलों में बंद फ़िलिस्तीनी क़ैदियों की अनदेखी किए जाने की कड़ी आलोचना करते हुए फ़िलिस्तीनी प्रशासन के प्रमुख महमूद अब्बास पर फ़िलिस्तीनियों की संपत्ति का दुरुपयोग किए जाने का आरोप लगाया।

श्री ज़ेहार ने षड्यंत्रों से मुक़ाबले के लिए फ़िलिस्तीनी जनता के मध्य एकता और एकजुटता की रक्षा की आवश्यकता पर बल देते हुए दुनिया के स्वतंत्रता प्रेमियों से मांग की है कि ग़ज़्ज़ा का परिवेष्टन समाप्त करने के लिए ज़मीनी और समुद्री कारवां भेजने का प्रयास करें।

इस्राईल ने पिछले दस वर्ष से ग़ज़्ज़ा पट्टी का परिवेष्टन कर रखा है और ईंधन, दवाएं और इमारत निर्माण के सामान सहित मूलभूत वस्तुएं क्षेत्र में जाने की अनुमति नहीं देता।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE