फिलिस्तीनियों पर नजर रखने और आवश्यकता पड़ने पर उनके खिलाफ कारवाई करने के लिए इस्राईल ने विशेष ड्रोन का निर्माण किया हैं. ये ड्रोन न केवल नजर रखेगा बल्कि फिलिस्तीनियों पर भी कारवाई करेगा.

साढ़े सात किलो भार वाले इस ड्रोन की विशेषता यह है कि वह लंबे समय तक उड़ान भर सकता है और हर प्रकार के मौसम में देर तक उड़ान भरने में सक्षम है.साथ ही यह सुरंगों या घरों में छिपे लोगों की भी जानकारी देगा.

और पढ़े -   रोहिंग्या संकट को लेकर म्यांमार में भेजी जा सकती है सेना, ईरान और पाक सैन्य प्रमुख में हुई बातचीत

इस ड्रोन के निर्माण का मकसद हैं कि फ़िलिस्तीन के प्रतिरोधकर्ताओं के ठिकानों और उन्हें तबाह करना है.  इस्राईल का यह विशेष ड्रोन, 5 से 8 किलोमीटर की दूरी को कवर कर सकता है और किसी इमारत या सुरंगों में छिपे लोगों और उनके पास मौजूद उपकरणों का भी पता बता सकता है.

वहीँ दूसरी और शनिवार को इस्लामी प्रतिरोध आंदोलन हमास ने ख़ालिद मश्अल के स्थान पर इस्माईल हनिया को हमास का प्रमुख नियुक्त किया हैं.

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमो पर आंग सान सु ने तोड़ी चुप्पी कहा, रोहिंग्या म्यांमार में आतंकी हमलो में शामिल, अन्तराष्ट्रीय दबाव नही झुकेंगे

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE