अल-अक्सा मस्जिद में शुक्रवार को नमाज ए जुमा के लिए इजराइल ने 50 वर्ष से कम उम्र के मुस्लिमों के प्रवेश करने पर रोक लगा दी है. इजराइल ने ये घोषणा होने वाले प्रदर्शनों को लेकर की है.

इजराइल पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि ओल्ड सिटी और अक्सा में प्रवेश 50 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के पुरुषों के लिए सीमित रूप से होगा. हालांकि सभी उम्र की महिलाओं को अनुमति दी जाएगी.

और पढ़े -   वाशिंगटन मामले में डोनाल्ड ट्रम्प ने तुर्की राष्ट्रपति से मांगी माफ़ी, कहा - 'सॉरी'

इसी बीच फिलिस्तीनी ग्रुप हमास और मुस्लिम नेताओं ने अंतराष्ट्रीय स्तर पर शुक्रवार को बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शनों का आह्वान किया है. बुधवार को, हमास नेता इसामी हनीया ने अल-अकसा मस्जिद परिसर में इजरायल को रेड लाइन ने पार करने की चेतावनी  दी.

उन्होंने कहा, यहूदीवादी दुश्मनों को मैं खुले और स्पष्ट तौर पर कहता हूं, अल-अकसा मस्जिद और यरूशलेम लाल रेखाएं हैं. वाकई में वे लाल रेखाएं हैं. जिन्हें पार करने की कोशिश न की जाए.

और पढ़े -   ट्रम्प की धमकियों पर उत्तरी कोरिया ने कहा - कुत्ते की तरह भौंकते रहे, नहीं डरने वाले

गौरतलब रहें कि फिलिस्तिनीं संगठनों ने मुसलमानों से किसी भी कीमत पर अल अक्सा में नमाज ए जुमा अदा करने की अपील की. साथ ही सभी मस्जिदों को बंद करने को कहा गया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE