अल-अक्सा मस्जिद पर इजरायल की कारवाई का विरोध बढ़ता ही जा रहा है. फिलिस्तीन के प्रधानमंत्री रामी हमदल्लाह ने अल-अक्सा की हिफाजत के लिए इस्लामिकन देशों से आगे आने की अपील की है.

हमदल्लाह ने मंगलवार को अंतर्राष्ट्रीय समुदाय और इस्लामी देशों से पवित्र स्थान पर इजरायल सरकार के कब्जे को रोकने के लिए हस्तक्षेप करने का आग्रह किया. उन्होंने कहा, पूरी दुनिया को यह जानना चाहिए कि इजरायल का जेरूशलम और उसके मुस्लिमों और ईसाईयों के पवित्र स्थानों पर कब्जे का कोई अधिकार नहीं है.

और पढ़े -   2016 में गौरक्षा के नाम पर बढ़ी है मुस्लिमों पर हिंसा: अमेरिकी विदेशमंत्री

उन्होंने कहा, फिलिस्तीनी अधिकारी और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय पूर्वी जेरूशलम पर इजरायल की संप्रभुता को मान्यता नहीं देता है जिस पर उसने 1967 में कब्जा किया और बाद में इजरायल में मिला दिया.

गौरतलब रहें कि इजरायल के तीन अरबी मूल के नागरिकों की शुक्रवार को अल अक्सा मस्जिद में इजरायल सुरक्षा बलों के हाथों मुठभेड़ में मौत केबाद इजरायली अधिकारियों ने समूचे परिसर को सीसीटीवी, जांच चौकी और मेटल डिटेक्टर से सील कर दिया.

और पढ़े -   ईरान और तुर्की के बीच बढ़ा सैन्य सहयोग, सऊदी अरब हुआ परेशान

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE