tasmiina

ब्रिटिश संसद (हाउस ऑफ कॉमन्स) की पहली स्कॉटिश मुस्लिम महिला सांसद तस्मीना अहमद शेख ने अल-अरबिया कों दिए इंटरव्यू में कहा कि आईएसआईएस) वास्तव में इस्लाम का प्रतिनिधित्व नहीं करता है.

उन्होंने आगे कहा कि वास्तव में, वे लोग मुर्ख हैं जो इस्लाम को आईएसआईएस से जोड़ते हैं. उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि इस्लाम आईएसआईएस के लिए एंटी डोट हैं. उन्होंने ने कहा कि हमें यह जरुरत हैं कि दुनिया भर में महिलाओं के साथ काम करने के अवसर मिलें. और उन समस्याओं का समाधान निकालें जो इस्लाम के नाम पर पैदा की जा रही हैं, जिनका इस्लाम से सबंध नहीं हैं.

और पढ़े -   पीएम मोदी के योग के चलते बारिश में भीगने के कारण कई बच्चें हुए बीमार

इसके लिए उन्होंने एक सुझाव देते हुए कहा कि मेरी पास एक योजना है जिसके तहत annual international Muslim women parliamentarian summit का आयोजन किया जाएँ. जिसमे दुनिया भर से मुस्लिम महिला सांसद शामिल हो. ताकि इस चीज पर बात की जाएँ कि किस तरह हमारी अच्छी नीतियों साझा कर गरीबी कम कर सकते हैं. और समझ सकते हैं.

उन्होंने आगे कहा कि दुनिया भर में महिलाओं, और विशेष रूप से मुस्लिम दुनिया में महिलाओं के लिए एक जगह बनाने की जरुरत हैं. क्योंकि जब वे अपने’ धर्म के बारे में बात कर रही होती हैं तो हमें एक भरोसे का एहसास होता है.

और पढ़े -   कठिन परिस्थितियों में भी नहीं छोड़ा फिलिस्तीन का साथ, मुसलमानों में फैलाए जा रहे मतभेद: सीरिया

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE