लंदन: आईएसआईएस आतंकी संगठन ने मुस्लिम धर्मगुरुओं के नामों की एक सूची जारी कर उन्हें ‘काफिर का इमाम’ कहा है और अपने समर्थकों से वैसे लोगों की हत्या करने को कहा है, जो उनसे असहमत हैं जिनमें इस्लामी नेता भी शामिल हैं।

isis2अपनी दुष्प्रचार पत्रिका ‘दाबिक’ के ताजा अंक में आईएसआईएस ने उन धर्मगुरुओं को निशाना बनाया है, जो उनकी आलोचना करते हैं। साथ ही कहा है कि काफिर के इमामों को मौत के घाट उतारा जाना चाहिए।

और पढ़े -   किसी को भी इस्लाम को आतंक से जोड़ने का अधिकार नहीं: एर्दोगान

कई इमामों की सूची जारी की
‘पश्चिम में काफिर के इमामों की हत्या’ शीषर्क वाले अध्याय में पत्रिका ने कहा है कि पश्चिम में रहने वाले मुसलमान कैसे दावा कर सकते हैं कि उन्होंने खुद को अल्लाह के प्रति समर्पित कर दिया है। संगठन ने कई इमामों की सूची जारी कर उन्हें काफिर बताया है।

ब्रसेल्स हमला के पीछे मौजूद लोगों की सराहना
पत्रिका ने ब्रसेल्स हमला के पीछे मौजूद लोगों की भी पहचान की और उनकी तस्वीरों के साथ उनकी सराहना की। भारत समेत दुनिया भर के उलेमा ने आईएसआईएस के हमलों की निंदा की है।

और पढ़े -   किम का ट्रंप पर करारा पलटवार - आग से खेलने के शौक़ीन अमरीकी बूढ़े को वश में करूंगा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE