आईएसआईएस के आतंकी फजुल्ला से निकल रहे नागरिकों पर गोलियां बरसा रहे हैं जिसके कारण सैकड़ों नागरिक जान बचाने के लिए फ़ुरात नदी में कूद गए, जिसके कारण कई लोगों की मोत हो गई हैं.

इराक़ी सेना ने इस शहर को आईएसआईएस से आजाद कराने के लिए व्यापक स्तर पर अभियान चलाया था. इराकी फोजें अब तक कई हिस्सों को आजाद करा चुकी हैं. अब भी शहर में 60 हज़ार नागरिक फंसे हुए हैं और वह अपनी जान बचाने के लिए कुछ भी करने को तैयार हैं.

सरकारी फौजों की नाकेबंदी से आईएसआईएस के आतंकियों ने फ़ल्लूजा से भागना शुरू कर दिया है. अब तक बड़ी संख्या में महिलाओं के कपड़े और बुर्क़ा पहन कर फ़ल्लूजा से भागने का प्रयास करने वाले आतंकियों को पकड़ा गया है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें