dron

ईरान ने अपनी जमीनी और समुद्री सीमाओं की सुरक्षा के लिए स्वदेशी आत्मघाती ड्रोन विकसित किया हैं. यह ड्रोन हमले के लिए भारी मात्रा में विस्फोटक ले जाने में भी सक्षम हैं.

ड्रोन को विकसित करने का मुख्य उद्देश्य समुद्री निगरानी बताया जा रहा है हालांकि मिसाइलों से लैस करने के लिए इसको विकसित नहीं किया गया है. आत्मघाती हमला करने के लिए यह भारी मात्रा में विस्फोटक ले जाने में सक्षम है.

और पढ़े -   फिलिस्तीन-इजरायल संघर्ष पर अमेरिका का रुख नहीं समझ पा रहे: फिलिस्तीनी पीएम

समाचार एजेंसी तसनीम के मुताबिक, ‘जल की सतह पर बहुत अधिक गति से उड़ने में सक्षम यह ड्रोन निशाने को टक्कर मारने और उसको खत्म करने में सक्षम है, चाहे वो कोई जहाज हो या तटवर्ती कमान केंद्र.’

इसके अलावा ड्रोन जल की सतह से आधा मीटर की ऊंचाई पर 250 किलोमीटर प्रति घंटे के रफ्तार से उड़ान भरने में पूरी तरह से सक्षम हैं.

और पढ़े -   सवा लाख अवैध हाजियों को मक्का से वापस भेजा गया

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE