सीरिया के मामलों में चीन के विशेष प्रतिनिधि ने अरब और अफ्रीक़ी देशों के मामलों में ईरान के विदेश सचिव से भेंटवार्ता की है।

Pars Today के अनुसार सीरिया के मामलों में चीन के विशेष प्रतिनिधि शी शियाओयान ने अमीर अब्दुल्लाहियान से भेंट में बल देकर कहा है कि सीरिया का मामला बहुत जटिल है और इस समस्या के समाधान के लिए राजनीतिक वार्ताओं के परिणामों के प्रति धैर्य व आशा से काम लेने की आवश्यकता है। चीनी प्रतिनिधि ने सीरियाई संविधान के संकलन और राष्ट्रपति के चयन को सीरियाई जनता से संबंधित बताया और कहा कि किसी भी विदेशी शक्ति को इन मामलों में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिये और सीरियाई जनता को अपनी इच्छानुसार निर्णय लेने की अनुमति देनी चाहिये।

अरब और अफ्रीक़ी देशों में ईरान के विदेश सचिव ने भी इस भेंट में सीरिया विरोधी गुटों और आतंकवादी गुट दाइश और जिब्हतुन्नुस्रा के मध्य निकट संबंधों की ओर संकेत किया और बल देकर कहा कि अमेरिकियों ने भी स्वीकार किया है कि सशस्त्र और आतंकवादी गुटों को एक दूसरे से अलग करना कठिन कार्य है। इसी प्रकार दोनों पक्षों ने सीरिया के मामलों में संयुक्त राष्ट्रसंघ के विदेश प्रतिनिधि के प्रयासों का समर्थन किया और सीरिया में आतंकवाद से मुकाबले की गम्भीर आवश्यकता पर बल दिया।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें