U.N. Secretary-General Ban Ki-moon gestures during a press conference at the United Nations headquarters in Geneva, Switzerland Friday, Dec. 12, 2008. Ban says the latest "very sobering" assessment of the World Bank underscores the world's economic problems. The world should act with great urgency and compassion to ease economic distress. (AP Photo/Anja Niedringhaus)
U.N. Secretary-General Ban Ki-moon 

भारत द्वारा पीओके में की गई सर्जिकल स्ट्राइक पर अब सयुंक्त राष्ट्र ने सवाल खड़े कर दिए हैं. संयुक्त राष्ट्र प्रमुख बान की मून के के प्रवक्ता स्टीफेन दुजारिक ने शुक्रवार को कहा कि नियंत्रण रेखा पर सीधे तौर पर कोई फायरिंग नजर नहीं आई.

स्टीफ़ान दुजारिक ने कहा, संयुक्त राष्ट्र के सैन्य प्रेक्षक दल ने भारत और पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर कोई गोलीबारी सीधे तौर पर नहीं देखी है. संघर्ष विराम के इन कथित उल्लंघन के बारे में हमें खबरों जानकारी मिली है. प्रेक्षक दल उस सिलसिले में संबंधित अधिकारियों से बातचीत कर रहा है.

और पढ़े -   सैन्य डील के बाद अमेरिका क़तर पर हुआ नरम तो सऊदी अरब पर भड़क उठा

दरअसल संयुक्त राष्ट्र का सैन्य प्रेक्षक दल भारत और पाकिस्तान के बीच नियंत्रण रेखा पर 1971 में लागू किए गए संघर्ष विराम की निगरानी करता है.

इस बारे में उन्होंने आगे कहा कि ‘वह निश्चित ही इन कल्पित उल्लंघनों की रिपोर्टों से वाकिफ हैं और वे संबंधित अधिकारियों से बात कर रहे हैं.’ प्रवक्ता ने कहा कि महासचिव नियंत्रण रेखा की स्थिति पर बहुत गंभीरता से नजर रखे हुए हैं और वह परमाणु संपन्न पड़ोसियों के बीच तनाव कम करने के लिए किसी भी प्रस्ताव का स्वागत करेंगे.

और पढ़े -   पाकिस्तान की जीत पर एंकर ने मोदी के लिए किया अभद्र भाषा का इस्तेमाल कहा , डूब मरो

हालांकि संयुक्त राष्ट्र में भारत के राजदूत सैय्यद अकबरउद्दीन ने संयुक्त राष्ट्र के दावों को ख़ारिज करते हुए कहा कि किसी के देखने या न देखने से सच्चाई बदल नहीं जाती.

सैय्यद अकबरउद्दीन ने कहा, जो तथ्य हैं वह किसी के देखने या न देखने से बदल नहीं जाते हैं और न ही किसी के मानने या न मानने से सच बदल जाता है. जो तथ्य हैं वह तो तथ्य ही रहते हैं और हमने तथ्य सामने रख दिए हैं और हम उसी पर कायम हैं.

और पढ़े -   क़तर ने सऊदी अरब के सामने झुकने से किया इंकार, कहा - नहीं बनेंगे गुलाम, करेंगे डटकर मुकाबला

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE