वाशिंगटन: अमेरिका के एक प्रमुख टेलीविजन चैनल के साथ काम करने वाले भारतीय मूल के एक पत्रकार पर डोनाल्ड ट्रंप के समर्थक बिफर पड़े और रिपब्लिकन नेता की प्रचार रैली में प्रदर्शन के दौरान कुछ समय के लिए पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया।

जब अचानक ट्रंप के समर्थक रैली में भारतीय मूल के पत्रकार पर भड़के, पुलिस ने भी हिरासत में लियाशिकागो में कल रात ट्रंप की रैली के रद्द होने के बाद हो रहे प्रदर्शन को कवर करने के दौरान सीबीएस न्यूज के रिपोर्टर सोपन देब को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

और पढ़े -   रोहिंग्या नरसंहार के चलते ब्रिटेन ने म्यांमार सेना को दी जाने वाली मदद पर लगाई रोक

समाचार संगठन ने कहा है कि देब प्रदर्शनकारियों और अमेरिकी राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी के लिए अपनी पार्टी की ओर से दौड़ में सबसे आगे चल रहे ट्रंप के समर्थकों के बीच हुई झड़प को कवर कर रहे थे।

सीबीएस न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, देब ने आरोप लगाया है कि उनको जमीन पर फेंक दिया गया और बिना नोटिस या चेतावनी के हथकड़ी लगा दी गई।

और पढ़े -   वाशिंगटन मामले में डोनाल्ड ट्रम्प ने तुर्की राष्ट्रपति से मांगी माफ़ी, कहा - 'सॉरी'

इलिनोइस स्टेट पुलिस ने आरोप लगाया कि देब हिरासत में लिए जाने का विरोध कर रहे थे। हालांकि न्यूज चैनल ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि उनके वीडियो और साथ के एक क्रू के वीडियो में देब विरोध करते हुए नहीं दिख रहे हैं।

देब ने कहा, ‘ट्रंप के एक समर्थक ने रेनो कार्यक्रम में मुझसे पूछा कि क्या मैं आईएसआईएस के फोटो ले रहा हूं। जब मैंने आश्चर्य से देखा तो उसने कहा, हां, मैं तुमसे पूछ रहा हूं।’ (NDTV)

और पढ़े -   अपने मकसद के लिए इजरायल ने किया दूसरों को तबाह, क्या अब भारत की बारी ?

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE