भारत के पठानकोट वायुसैनिक अड्डे पर हुए आतंकवादी हमले की निंदा करते हुए चीन ने आज कहा कि यह हमला संभवत: भारत पाक रिश्तों में दरार डालने की मंशा से जानबूझकर किया गया है..

भारत के पठानकोट वायुसैनिक अड्डे पर हुए आतंकवादी हमले की निंदा करते हुए चीन ने सोमवार को कहा कि यह हमला संभवत: भारत पाक रिश्तों में दरार डालने की मंशा से जानबूझकर किया गया है। भारत पाक रिश्तों में हाल में सुधार के संकेत मिले हैं। चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने यहां एक मीडिया ब्रीफिंग में इस बारे में किए गए सवालों के जवाब में कहा ,‘‘हम इस हमले की निंदा करते हैं ..

इस मौके पर यह हमला शायद (भारत पाक रिश्तों में) आई गति को भंग करने के इरादे से जानबूझकर किया गया हैं। बहुत सी मीडिया रिपोर्ट में ऐसा संदेह जताया गया है।’’ हुआ ने इस बात पर बल दिया कि भारत पाकिस्तान के रिश्तों में हाल में ‘सुधार के संकेत’ मिले हैं, जिसका सभी पक्षों ने स्वागत किया है। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस हमले के बावजूद दोनों देश वार्ता जारी रखेंगे। हुआ ने कहा ,‘‘भारत और पाकिस्तान दक्षिण एशिया के महत्वपूर्ण देश हैं। इन दोनों देशों के बीच रिश्तों में सुधार क्षेत्रीय शांति और स्थिरता की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है।

चीन उम्मीद करता है कि भारत और पाकिस्तान इस तरह की बाधाओं के बावजूद अपना सहयोग और वार्ता जारी रखेंगे।’’ हुआ ने कहा ,‘‘कुछ मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत और पाकिस्तान के नेताओं के बीच बैठकें काफी सफल रही हैं।’’ उन्होंने यह बात संभवत: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके पाकिस्तानी साथी नवाज शरीफ के बीच लाहौर में हुई मुलाकात के संदर्भ में कही। हथियारों से लैस पाकिस्तानी आतंकवादियों ने शनिवार को भारतीय वायुसेना के पठानकोट अड्डे पर हमला किया । ऐसा माना जाता है कि हमलावरों ने पाकिस्तान से घुसपैंठ की थी।

ऐसा समझा जाता है कि वे कंधार विमान अपहरण कांड में संलिप्त मौलाना मसूद अजहर के नेतृत्व वाले जैश ए मोहम्मद से संबद्ध थे। साभार: जनसत्ता


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें