भारत और चीन के बीच जारी तनाव में अब जुबानी जंग भी तेज हो गई है. चीन ने भारत पर अमेरिका को खुश करने के लिए डोकलाम विवाद पैदा करने का आरोप लगाया.

ग्लोबल टाइम्स में में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाल ही सम्पन्न हुए अमेरिका दौरे के मद्देनजर भारत-चीन सीमा पर विवाद बढ़ाने की कोशिश की गई. अमेरिकी राष्ट्रपति को खुश करने को लेकर भारत ने डोकलाम विवाद शुरू किया.

और पढ़े -   तुर्की सीरियाई हाजियों की मदद के लिए आगे आया

शंघाई इंस्टीट्यूट फॉर इंटरनेशनल स्टडीज के वरिष्ठ फेलो लीयू जोंगइ ने अपने  अपने लेख में कहा, ‘मोदी ने ट्रंप के साथ अपनी मुलाकात के संबंध में दो कदम उठाए. पहला वह अमेरिका के साथ हथियारों का सौदा पक्का करना चाहते थे.

अमेरिका के लिए हथियारों का सौदा भारत की तरफ न सिर्फ आर्थिक लाभ देगा बल्कि भारत प्रशांत क्षेत्र में चीन को नियंत्रित करने के लिए भारत के अनुकूल स्थिति को मजबूत करेगा. दूसरा कदम अमेरिका के समक्ष भारत का चीन के बढ़ते प्रभाव पर अंकुश लगाने का दृढ़ संकल्प प्रदर्शित करना है.’

और पढ़े -   गाजा पट्टी की बिजली आपूर्ति और रफा क्रॉसिंग की दुबारा खुलने की संभावना

उन्होंने कहा कि भारतीय सेना ने चीन-भारत सीमा के विवादित सिक्किम क्षेत्र में बनाई जा रही सड़क का विरोध किया. इसके जरिए भारत की कोशिश अमेरिका को ये दिखाना था कि वो चीन का हर क्षेत्र में विरोध करके उन्हें परेशान कर रहा है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE