ir

उडी हमलें के बाद लगातार भारत और पाकिस्तान के बिगड़ते रिश्तों को लेकर ईरान के पाकिस्तान में राजदूत महदी हुनर दोस्त ने कहा कि अगर भारत और पाकिस्तान चाहें तो ईरान मध्यस्थता करने के लिए तैयार हैं.

महदी हुनर दोस्त ने कहा कि ईरान की ओर से क्षेत्रीय तनावों को दूर करने में सहायता, तेहरान की विदेश नीति के सिद्धांतों में शामिल है. ऐसे में ईरान क्षेत्र में हर प्रकार के तनाव और मतभेदों में वृद्धि को क्षेत्र व इस्लामी जगत की शांति व स्थिरता के लिए हानिकारक समझता है.

उन्होंने आगे कहा, अगर भारत और पाकिस्तान चाहें तो इस्लामी गणतंत्र ईरान, सद्भावना के साथ दोनों देशों के बीच मध्यस्थता करने के लिए तैयार है.

साथ ही उन्होंने मध्यपूर्व के क्षेत्र में भी शांति, स्थिरता व विकास के लिए समरसता, सहयोग जरुरी बताते हुए कहा  इसके लिए क्षेत्र में सभी आवश्यक संभावनाएं मौजूद हैं और क्षेत्र से बाहर के समाधानों की कोई ज़रूरत नहीं है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें