भारत और चीन के उपजा तनाव गंभीर रूप लेता जा रहा है. चीन ने अब एक कदम और आगे बढ़ते हुए सिक्किम के लोगों को आजादी की मांग करने के लिए भडकाना शुरू कर दिया है.

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में कहा गया कि  गर सिक्किम भारत से अलग होने और भूटान भारतीय दबाब से बाहर निकलने के लिए आवाज़ उठाता है तो चीन उनकी मदद करेगा और दुनियाभर में अनुचित सीमा संधियों को खत्म करने के लिए चीन उनकी पैरवी करेगा.

और पढ़े -   ईरान ने रोहिंग्या मुसलमानों के लिये भेजा 40 टन खाद्य सामग्री

लेख में चीन ने अपने नागरिकों से भारत के खिलाफ माहौल बनाने को कहा है ताकि वो सिक्किम के लोगों में आजादी का आंदोलन और माहौल पैदा करे. सिक्किम के लोगों को चीन का जनसमर्थन हासिल है.

भारत में चीनी दूतावास के राजनीतिक सलाहकार ली या ने फिर कहा है भारतीय सेना को पीछे हटना ही होगा. उन्होंने भारत के इस दावे को भी खारिज किया है कि डोकलाम, भूटान का हिस्सा है.

और पढ़े -   सयुंक्त राष्ट्र के प्रतिबंधो के जवाब में उत्तरी कोरिया ने जापान पर दागी मिसाइल

इस बीच खबर है कि चीन ने जर्मनी में कल से होने वाले जी20 समिट में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की मुलाकात होने की कोई सम्भावना नहीं है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE