nafis

दिसंबर के महीने में अमृतसर में अफगानिस्तान पर होने वाले ‘हार्ट ऑफ एशिया’ सम्मेलन में पाकिस्तान भी हिस्सा लेगा. शुक्रवार को पाकिस्तान के विदेश विभाग प्रवक्ता नफीस जकारिया ने इस बात की जानकारी दी. भारत ने इस बैठक में भाग लेने के पाक के फैसले का स्वागत किया है.

पाकिस्तानी विदेश विभाग प्रवक्ता नफीस जकारिया ने इस बारे में कहा कि इस सम्मेलन का उद्देश्य अन्य क्षेत्रीय देशों के सहयोग के साथ अफगानिस्तान का विकास करना है जो अफगानिस्तान में शांति एवं स्थिरता की हर कोशिश का समर्थन का पाकिस्तान की प्रतिबद्धता के अनुरूप है.

हालांकि प्रवक्ता ने इसके तरीके और बैठक में पाकिस्तान की भागीदारी के स्तर के बारे में कुछ नहीं बताया, उन्होंने इस बारें में कहा, ‘हार्ट ऑफ एशिया सम्मेलन में भागीदारी के तरीके और स्तर पर फैसला नहीं हुआ है.

भारतीय उच्चायोग अधिकारी को पाकिस्तान से निष्कासित करने के सवाल पर उन्होंने कहा, भारतीय उच्चायोग में निष्कासित भारतीय कर्मचारी ऐसी गतिविधियों में शामिल था जो पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा हितों के सीधे तौर पर खिलाफ था.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें