new

अमेरिका में न्यूयॉर्क के क्वींस इलाक़े में शनिवार को एक मस्जिद के बंगलादेशी मूल के इमाम और उनके साथी की गोली मारकर हत्या कर दी गई. 

न्यूयॉर्क पुलिस के मुताबिक़, क्वींस इलाक़े के ओज़ोन पार्क में स्थित अल-फ़ुरक़ान जामा मस्जिद के इमाम अलाउद्दीन आकूंजी पर उस समय फ़ायरिंग की गई, जब वे अपने एक साथी के साथ शाम की नमाज़ के बाद मस्जिद से घर लौट रहे थे.

हमलावर ने दोनों व्यक्तियों के सिरों में निकट से गोली मारी और दोनों को ख़ून में लथपथ करके पैदल चलकर वहां से फ़रार कर गया. आकूंजी दो साल पहले ही बांग्लादेश से न्यूयॉर्क में जाकर बसे थे। मारे गए दूसरे व्यक्ति की उम्र 64 वर्ष थी.

33 वर्षीय एक स्थानीय निवासी ख़ैरुल इस्लाम का कहना था कि हम इसके लिए डॉनल्ड ट्रम्प को ज़िम्मेदार मानते हैं, ट्रम्प और उनके चुनावी प्रचार ड्रामे ने इस्लामोफ़ोबिया को बढ़ावा दिया है


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें