iran1

ईरान के रक्षा मंत्री ने कहा कि अगर जरुरत पड़ती है तो वो नोजेह एयरबेस को रूस के साथ दोबारा से साझा कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि सीरियन सरकार की मदद के लिए वे रुसी मित्रों के साथ बेस साझा करने को तैयार हैं।

उन्होंने ये भी कहा कि आतंकवादियों के खिलाफ सैन्य अभियान के लिए ईरान अपने दोस्त रूस की हरसंभव मदद करेगा। ज्ञात रहे कि इस से पहले एक बार रूस की वायुसेना ईरानी सरकार से अनुमति लेने के बाद इस एयरबेस का इस्तेमाल कर चुकी है।

और पढ़े -   रोहिंग्या समूह ने कहा – म्यांमार मुस्लिमों के नरसंहार में लगा हुआ

पहले रुसी भारी बमवर्षक विमानों को सैन्य अभियान के लिए हज़ारों किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती थी जब वो रूस से उड़ान भरते थे लेकिन इस ईरानी बेस का इस्तेमाल करने के बाद रूस के बम्बर विमानों को पहले के मुकाबले आधी से भी कम दूरी तय करनी पड़ती है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE