ban

संयुक्त राष्ट्रसंघ के महासचिव ने कहा है कि वे कश्मीर संकट के समाधान में मध्यस्त की भूमिका निभा सकते हैं।

पाकिस्तान के समाचारपत्र नवाए वक़्त के अनुसार बान की मून ने रविवार को कहा है कि अपना कार्यकाल समाप्त होने वे पहले वे कश्मीर संकट के समाधान में मध्यस्त के रूप में अपनी सेवाएं प्रदान कर सकते हैं।

बान की मून ने कहा कि कश्मीर संकट के समाधाान के बिना दक्षिण एशिया में शांति एवं सुरक्षा की स्थापना संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि यदि भारत और पाकिस्तान सहमत हों तो मैं इस संकट के समाधान में मध्यस्तता कर सकता हूं।

संयुक्त राष्ट्रसंघ के महासचिव ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के तनाव ने दक्षिण एशिया की शांति को ख़तरे में डाल दिया है इसलिए इस संकट का समाधान यथाशीघ्र होना चाहिए। बान की मून ने कहा कि दोनो पक्षों के बीच अधिक से अधिक विश्वास बहाली के लिए द्विपक्षी वार्ता को जारी रहना चाहिए।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें