एक ब्रिटिश आईएसआईएस कट्टरपंथी की चौंकाने वाली हकीकत सामने आई है। इसे नकाबपोश जल्लाद भी कहा जा रहा है। इस नए जिहादी को ‘न्यू जिहादी जॉन’ करार दिया गया है। इसकी एक तस्वीर अभी सामने आई है। इस तस्वीर में वह अतिवादी मुस्लिम धर्मगुरु अंजेम चौधरी की लंदन में आयोजित इस्लामिक रैली में साथ दिख रहा है। यह तस्वीर चार साल पहले ली गई थी।

सिद्धार्थ धर जिसे अबु रुमायसाह के नाम से भी जाना जाता है, वह रैली में चौधरी के साथ है। ये सभी ग्रोवनर स्क्वेयर में अमेरिकी दूतावास के बाहर 9/11 हमले की दसवीं बरसी पर प्रदर्शन कर रहे थे। दोनों सफेद लिबास में ही लिपटे थे। ये दोनों अन्य अतिवादियों के साथ प्रदर्शन कर रहे थे। इस्लामिक अतिवादियों ने इस प्रदर्शन का नाम ‘मुस्लिम्स अगेंस्ट क्रूसेड्स’ दिया था। इसे संक्षेप में एमएसी कहा जाता है। एमएसी की स्थापना अबु असदुल्लाह ने की थी।

सिद्धार्थ धर की बहन कोनिका धर ने विडियो की अवाज को अपने भाई की आवाज की तरह बताया है। हालांकि कोनिका का अब भी मानना है कि वह उसका भाई नहीं हो सकता। उत्तरी लंदन में रहने वाली धर ने कहा, ‘यदि वह मेरा भाई ही है तो मैं बुरी तरह से हैरान हूं। मैं उसकी हत्या करने जा रही हूं। यदि उसने ऐसा किया है और वह आ रहा है तो मैं उसकी हत्या करने जा रही हूं। मुझे बिल्कुल भरोसा नहीं हो रहा। यह मेरे लिए बुरी तरह से हैरान करने वाला है। मुझे नहीं पता कि सुरक्षा एजेंसिया उसकी पहचान साबित करने के लिए क्या कर रही हैं लेकिन मैं जानना चाहती हूं कि क्या वह मेरा भाई ही है।’

और पढ़े -   अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने दुनिया भर के मुस्लिमों को दी रमजान की मुबारकबाद

सिद्धार्थ धर की मां सबिता धर ने कहा, ‘मैं नहीं समझ पा रही कि क्या वह मेरा बेटा है। इस खुलासे से मैं हैरान हूं। मुझे कभी संदेह नहीं हुआ कि उसके संबंध आतंकियों से हैं। मैं तो उसे शर्मीले और संवेदनशील के रूप में जानती थी। मेरे लिए जवाब देना बेहद मुश्किल है। मैं कुछ भी कहने की स्थिति में नहीं हूं। मैं कैसे बताऊं कि यह सच है या झूठ। मैंने उसे आखिरी बार तब देखा था जब वह दो साल पहले सीरिया गया था।’

द टेलिग्राफ के मुताबिक जिहादी जॉन अपनी बीवी और चार बच्चों के साथ सीरिया गया था। तभी वह सुरक्षा एजेंसियों के लिए संदिग्ध हो गया था। यह ब्रिटिश जिहादी हिन्दू से मुस्लिम बना था। वह ईस्ट लंदन में बाउंसी कासल का सेल्समैन था। सिद्धार्थ ने की मां और बहन का कहना है कि उन्होंने आईएसआईएस द्वारा जारी किए गए विडियो को देखा है। विडियो देखने के बाद इन्होंने कहा कि नकाबपोश जिहादी और सिद्धार्थ धर की आवाज में समानता है।

धर को सितंबर 2014 में अरेस्ट किया गया था। तब वह धर्मगुरु अंजेम चौधरी के साथ था। अंजेम चौधरी का संबंध प्रतिबंधित ग्रुप अल मुहाजिरौन से है। चौधरी को अगले हफ्ते संदिग्ध आतंकी वारदात में संलिप्त होने के मामले में अगले हफ्ते कोर्ट में पेश होना है। हालांकि धर ब्रिटेन से फरार है और वह कोर्ट में पेश नहीं हो पाएगा। बेल मिलते ही धर अपनी बीवी और बच्चों के साथ बस से पैरिस के लिए रवाना हो गया था। इसके बाद वह पैरिस से सीरिया आईएसआईएस जॉइन करने रवाना हो गया था।

और पढ़े -   गन पॉइंट पर शादी को मजबूर हुई उज्मा लौटेगी भारत, इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने दिया आदेश

इसके बाद से वह ब्रिटिश अधिकारियों पर ताना मारने लगा। ट्विटर पर तस्वीरें पोस्ट करता था। इन तस्वीरों में उसकी एक तरफ AK-47 रायफल होता था और दूसरी ओर उसका बेटा। सुरक्षाकर्मी उसकी अवाज को पहचानने को लेकर काम कर रहे हैं। एक्सपर्ट्स का मानना है कि धर से इस जिहादी की आवाज मिल रही है। उस विडियो में एक बच्चा भी है जिसकी पहचान उसके बेटे के रूप में की गई है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने इस विडियो की निंदा की है।

सिद्धार्थ धर की बहन ने कहा कि वह 10 साल पहले हिन्दू से मुसलमान बन गया था। कोनिका ने कहा, ‘मेरे जेहन में सिद्धार्थ की यादें तब की हैं जह हम बच्चे या टीनएज थे। वह बहुत अच्छा लड़का था। मुझे पता है कि लोग विश्वास नहीं करेंगे लेकिन यह सच है।’ धर मुस्लिम महिला आइशा से शादी के पहले तक हिन्दू था। कहा जा रहा है कि उसकी मुस्लिम पत्नी ने ही उसे अतिवादी बनाया। धर के पड़ोसी ने बताया कि उसकी पत्नी ने ही उसे कट्टर इस्लाम बनाया।

धर ने ब्रिटेन में शरिया कानून लगाने की वकालत की थी। वह अल-मुहाजिरौन का अहम मेंबर रहा है। यह ग्रुप शरिया कानून की वकालत करता है। इस ग्रुप के जरिए युवाओं को कट्टर मुसलमान बनाने का अभियान चलता था। एक इंटरव्यू में उसने कहा था, ‘हमलोग का मानना है कि शरिया को लागू किया जाता है तो इराक और सीरिया को इस्लामिक स्टेट बनाया जा सकता है। जिहाद के जरिए एक दिन ब्रिटेन को इस्लामिक स्टेट में तब्दील किया जा सकेगा। हमलोग यूरोप और ब्रिटेन की हरकतों को भूल नहीं सकते।’

और पढ़े -   इंडोनेशियाई पुलिस ने रमजान से पहले लाखों शराब की बोतलों को स्टीमरोलर से किया नष्ट

आईएसआईएस का प्रॉपेगैंडा विडियो रविवार को जारी हुआ है। इसमें पांच सीरियाई लोगों की हत्या करते हुए दिखाया गया है। इन पांचों पर ब्रिटेन के लिए जासूसी करने का आरोप था। यह विडियो क्लिप लगभग 11 मिनट का है। सभी ऑरेंज कपड़े में है और ब्रिटेन को सूचना देने का जुर्म कबूल करते दिख रहे हैं। इनकी हत्या में करने में धर शामिल है।

यह तस्वीर ठीक उसी दिन सामने आई जिस दिन धर की बहन ने कहा कि वह उसे मार देगी यदि इस बात की पुष्टि हो गई कि उसका भाई आईएसआईएस का नया नकापोश जल्लाद है। ब्रिटिश सिक्यॉरिटी एजेंट्स इसकी पहचान में लगे थे। वह एक विडियो में बेहतरीन इंग्लिश में बात कर रहा है। इस विडियो में वह ब्रिटिश जासूस की हत्या करते देखा गया है। अटकलें तेज हैं कि ब्रिटिश जिहादी बंदूकधारी धर आईएसआईएस जॉइन करने सीरिया गया था। 2014 में पुलिस ने उसे बेल पर रिहा किया था।

Web Title –  New Jihadi John Revealed Family Of British Muslim Convert Siddhartha Dhar Say He Is Isil Killer

Keywords -HIndu ISIS,Muslim Convert Siddhartha Dhar,british muslim Siddhartha

NBT


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE