ईरान राष्ट्रपति चुनाव में हसन रुहानी ने लगातार दूसरी बार भारी मतों से जीत हासिल की है.  ईरान के सरकारी टेलीविजन ने इस बात की जानकारी दी है. उन्होंने अपने प्रतिद्दंदी इब्राहिम रेसी को हराया है. हसन रूहानी को लगभग चार करोड़ वोट मिले हैं.

शुक्रवार को हुए मतदान में डॉक्टर रूहानी को 2 करोड़ 35 लाख, 49 हज़ार 616 वोट मिले जबकि उनके प्रतिद्वंदवी सैय्यद इब्राहीम रईसी को 1 करोड़, 57 लाख 86 हज़ार 449 वोट मिले। दोनों नेताओं को क्रमशः 57 और 38.5 फ़ीसद वोट मिले.

इससे पहले रूहानी 2013 के चुनावों में जीत हासिल करके राष्ट्रपति बने थे. 4 साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद उन्हें लगातार दूसरी बार इस पद के लिए चुना गया है. हसन रूहानी ईरान में आर्थिक सुधारों के लिए जाने जाते हैं. रूहानी दुनिया के अन्य देशों के साथ ईरान के संबंध मधुर बनाने के हिमायती रहे हैं.

रूहानी के ही कार्यकाल में अमेरिका और ईरान के बीच परमाणु समझौता हुआ और यह एक बड़ा कदम था. जिसके तहत यूरोप और अमरीका समेत संयुक्त राष्ट्र संघ ने ईरान पर लगे प्रतिबंधों को हटा लिया. ग्लासगो कैलेडोनियन यूनिवर्सिटी से पीएचडी डिग्री प्राप्त रूहानी को शब्दशिल्पी कहा जाता है. कहते हैं कि रूहानी कड़वे फैसलों को मीठी चाशनी में डुबोकर लिया करते हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE