women

यहूदी धर्मगुरु नहलूत ने महिलाओं के लिए सायकल न चलाने का फरमान जारी करते हुए कहा हैं कि लड़कियों के लिए साइकिल चलाने के बहुत नुक़सान हैं. सायकल की सिट पर बेठने से पुरुषों की भावनाएं भड़कती हैं.

रशिया टुडे के अनुसार यहूदी धर्मगुरु ने कहा, “पिताओं से कहा है कि वे 5 साल से ज़्यादा उम्र की लड़कियों को साइकिल न चलाने दें और उनसे कहें कि साइकिल की गद्दी पर बैठना धर्म के ख़िलाफ़ है।”

और पढ़े -   क़तर ने सऊदी अरब के सामने झुकने से किया इंकार, कहा - नहीं बनेंगे गुलाम, करेंगे डटकर मुकाबला

यहूदी धर्मुगुरुओं का इस तरह का फरमान पहली बार नहीं हैं. इससे पहले हरीदीम यहूदी गुट ने पिछले साल दिसंबर में बनी बराक शहर में लड़कियों के ग्रेजुएट कॉलेज में प्रवेश पर रोक लगाने की मांग की थी.

इस गुट का मानना है कि इस तरह के शिक्षा केन्द्र लड़कियों को ख़तरनाक बातों की शिक्षा देते हैं. हरीदीम गुट यहूदी समाज में स्मार्ट फ़ोन और इंटरनेट के इस्तेमाल पर रोक लगाने की वकालत भी करता आया हैं.

और पढ़े -   क़तर पर बहरीन ने किए तेवर ढीले, कहा - कतरी भाई हमारे अपने, बस बदल ले अपनी नीतियाँ

 


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE