सऊदी अरब के पवित्र नगर मक्का में सैकड़ों मज़दूरों ने मज़दूरी न मिलने के कारण विरोध प्रदर्शन किये।

अलआलम टीवी चैनेल की रिपोर्ट के अनुसार सऊदी अरब की कई कंपनियों द्वारा अपने मज़दूरों को मज़दूरी न देने के कारण शनिवार की रात को बहुत से मज़दूरों ने कई बसों को आग लगा दी। बताया जा रहा है कि प्रदर्शनकारियों ने कई वाहनों के शीशे तोड़ दिये। मक्के के अग्निशमन केन्द्र ने बतया है कि उसने आग लगी 17 बसों की आग बुझाई। इस घटना में बिन लादिन कंपनी के कई कर्मचारी शामिल हैं।

और पढ़े -   काबा के आगे लहराया तिरंगा, हज के दौरान मनाया यौमे आज़ादी

इससे पहले शनिवार को सऊदी अरब के कई नगरों में उन 25 हज़ार मज़दूरों ने प्रदर्शन किये थे जिन्हें पिछले चार महीनों से वेतन नहीं मिला और अब उन्हें निकालने के आदेश दिये गए हैं।

कुछ पश्चिमी संचार माध्यमों ने हाल ही में बताया है कि सऊदी अरब ने पहली बार विश्व बैंक से दस अरब डालर का क़र्ज़ा लिया है।

और पढ़े -   क़तर को लेकर इराक रहेगा तटस्थ, नहीं देगा किसी का भी साथ

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE