फ़्रान्स के पूर्व विदेश मंत्री लोरान फ़ैब्यस ने फ़िलिस्तीन की समस्या के समाधान के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन के आयोजन की सूचना दी और कहा कि अगर इस पहल में रुकवाट डाली गई तो फ़्रान्स फ़िलिस्तीन को एक स्वाधीन देश के रूप में औपचारिक रूप से स्वीकार करने के संबंध में अपनी ज़िम्मेदारी का पालन करेगा।

ज़ायोनी शासन ने फ़िलिस्तीन समस्या के समाधान के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय शांति सम्मेलन आयोजित करने के फ़्रान्स के प्रस्ताव का विरोध किया है। ज़ायोनी प्रधानमंत्री बेनयामिन नेतनयाहू के कार्यालय ने गुरुवार को एक बयान जारी करके कहा है कि यह प्रस्ताव इस्राईल के लिए हानिकारक है।

फ़ैब्यस के इस बयान का फ़िलिस्तीनी नेताओं ने स्वागत किया है और पीएलओ की कार्यकारी समिति के महासचिव साएब उरैक़ात ने कहा है कि फ़िलिस्तीनी, ज़ायोनी शासन के अतिग्रहण की समाप्ति और 1967 की सीमाओं में एक स्वाधीन फ़िलिस्तीनी देश की स्थापना के लिए अंतर्राष्ट्रीय हस्तक्षेप के संबंध में फ़्रान्स की पहल का स्वागत करते हैं। फ़िलिस्तीनी प्रशासन के प्रमुख महमूद अब्बास ने भी फ़्रान्स के इस प्रस्ताव का स्वागत करते हुए यूरोपीय संघ से अनुरोध किया है कि वह फ़िलिस्तीन समस्या के समाधान के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय कान्फ़्रेंस के आयोजन हेतु क़दम उठाए।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें