burki

फ्रांस की सुप्रीम कोर्ट ने मुस्लिम महिलाओं के पूरे शरीर ढंकने वाले स्विमसूट यानी बुर्कीनी पहनने पर लगे प्रतिबंध को ग़ैर क़ानूनी बताते हुए हटा दिया हैं.

अदालत ने कहा, ”विलनव लूबे में बुर्कीनी पर लगी रोक व्यक्तिगत आज़ादी, विचारों की स्वतंत्रता और बेरोक-टोक आने और जाने के अधिकार का गंभीर और साफ़ तौर पर ग़ैरकानूनी उल्लंघन है.”

अदालत ने अपने आदेश में कहा है कि स्थानीय प्रशासन को लोगों की स्वतंत्रता पर रोक लगाने का अधिकार नहीं है.

और पढ़े -   फिलीपींस के राष्ट्रपति ने डोनाल्ड ट्रम्प के बातचीत के निमंत्रण को ठुकराया

फ्रांस के कई शहरों में बुर्कीनी पर प्रतिबंध को मानवाधिकार संगठनों ने पसंद के कपड़े पहनने के मुस्लिम महिलाओं के अधिकार का उल्लंघन बताकर इसके ख़िलाफ़ अपील की थी.

अदालत के बाहर अपील करने वाले संगठनों के एक वकील ने कहा कि जिन मुस्लिम महिलाओं पर बुर्कीनी पहनने के लिए जुर्माना लगाया गया था वो जुर्माने की राशि वापस पाने के लिए दावा कर सकती हैं.

और पढ़े -   संयुक्त राष्ट्र महासचिव अल-अक्सा संकट के चलते ने बढ़ती हिंसा पर जताई चिंता

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE