jimmi

भूतपूर्व अमरीकी राष्ट्रपति जिमी कार्टर ने अमेरिका को नस्लवाद का एक गढ़ बताया है। अमरीका के भूतपूर्व राष्ट्रपति जिमी कार्टर ने एक प्रेस साक्षात्कार में कहा है कि नस्लवाद अमरीका की मिट्टी में है और हालिया दिनों में एक बार फिर नस्लवाद की घटनाओं में वृद्धि हूई है।

न्यूयॉर्क टाइम्स से बातचीत करते हुए जिमी कार्टर ने कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति के रूप में बराक ओबामा के चुनाव ने देश में नस्लवादी प्रवृत्तियों को स्पष्ट कर दिया क्योंकि कई रिपब्लिकन सदस्य भी एक काले अमरीकन के राष्ट्रपति बनने के विरोधी रहे हैं।

और पढ़े -   सऊदी अरब की मांगो की सूची के जवाब में क़तरियों ने भी की अपनी मांगो की सूची जारी

उन्होंने अश्वेतों के ख़िलाफ़ पुलिस के दुर्व्यवहार और बेरोज़गारों की संख्या की ओर इशारा करते हुए कहा कि अमरीका में नस्लवाद का पूरी तरह से उन्मूलन नहीं किया जा सका है।

भूतपूर्व अमरीकी राष्ट्रपति जिमी कार्टर ने कहा कि अमरीका में राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रम्प के हाथ नस्लवाद की उपजाऊ ज़मीन आ गई है जिसमें से वह अपने हिस्से की फसल काट रहे हैं। जिमी कार्टर ने कहा कि डोनाल्ड ट्रम्प ने मैक्सिको वालों को दोषी बताकर और मुसलमानों पर अमरीका के दरवाज़े बंद करने की बात कहके, बुनियादी मानव अधिकारों का मज़ाक उड़ाया है।

और पढ़े -   कठिन परिस्थितियों में भी नहीं छोड़ा फिलिस्तीन का साथ, मुसलमानों में फैलाए जा रहे मतभेद: सीरिया

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE