ham

पाकिस्तान के धार्मिक मामलों के एक पूर्व मंत्री हामिद सईद काज़मी को हज भ्रष्टाचार मामले में शुक्रवार को 16 साल कैद की सजा सुनाई गई।  काज़मी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) से जुड़े हैं। इस पार्टी की 2008 से 2013 के बीच पाकिस्तान में सरकार के वक्त काज़मी को बहुत असरदार मंत्री माने जाते थे।

डॉन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एक निचली अदालत, केंद्रीय विशेष अदालत के न्यायाधीश मलिक नजीर अहमद ने हज महानिदेशक (डीजी) राव शकील को 40 साल जेल तथा धार्मिक मामलों के संयुक्त सचिव आफताब असलम को 16 साल जेल की सजा सुनाई। उल्लेखनीय है कि साल 2010-12 के बीच हुए हज भ्रष्टाचार मामले से राजनीतिक माहौल गर्मा गया था, जिसके परिणामस्वरूप हामिद सईद काजमी तथा आजम स्वाति को संघीय मंत्रिमंडल से बाहर होना पड़ा था।

दोषिओं पर 2009 में मक्का में पाकिस्तानी जायरीन के लिए घटिया स्तर की आवासीय व्यवस्था करने और इस प्रक्रिया में रिश्वत लेने का आरोप लगा था। साथ ही किराए के तौर पर भी जायरीन से अधिक रकम वसूली की गई थी। ऐसा करने से पाकिस्तान के कुल 35,000 जायरीन प्रभावित हुए थे। हर साल पाकिस्तान से करीब एक लाख लोग हज यात्रा के लिए सऊदी अरब जाते है।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें