इंग्लैंड से ऑस्ट्रेलिया आ रही इतिहाद एयरलाइंस की फ्लाइट को एक बुज़ुर्ग दंपती की मदद के लिए रोक दिया गया। पायलट के इस फैसले की सभी तारीफ़ कर रहे हैं। दरअसल, विमान पर सवार एक बुज़ुर्ग दंपती को टेक्स्ट मैसेज मिला था जिसमें उनके पोते के बहुत गंभीर हालत में होने की सूचना मिली थी।

ट्रेवल काउंसलर बेकी स्टेफेंसन ने एक फेसबुक ग्रुप ‘ट्रेवल गॉसिप’ पर इस कहानी को पोस्ट किया है। इस पोस्ट में इतिहाद एयरलाइंस के स्टाफ के इस शानदार मानवीय दृष्टिकोण की प्रशंसा की गई है। पायलट ने बुजुर्ग दंपती के आग्रह पर तत्काल विमान को रोक दिया जिससे कि वे अस्पताल में अपने पोते को देखने के लिए पहुंच सकें।

पोस्ट के मुताबिक दंपती इंग्लैंड से वाया आबू धाबी ऑस्ट्रेलिया जा रहे थे। विमान को रनवे की तरफ़ ले जाया जा रहा था। बुज़ुर्ग दंपती अपना मोबाइल फोन स्विच ऑफ करने ही जा रहे थे कि उन्हें पोते के गंभीर हालत में आईसीयू में भर्ती होने का टेक्सट मैसेज मिला। साथ ही कहा गया कि वो जितनी जल्दी हो सके अस्पताल पहुंचे।

उन्होंने केबिन क्रू को इसकी सूचना दी। पायलट को इसकी जानकारी मिली तो पायलट ने विमान को रनवे ले जाने की जगह गेट की तरफ मोड़ दिया जिससे कि दंपती विमान से उतर सकें। दंपती के लगेज की अनलोडिंग और कार पार्क से कार को तैयार रहने के लिए भी कह दिया गया।

स्टेफेंसन ने लिखा है कि हर चीज़ पर बारीकी से इतना ध्यान दिया गया कि एयरलाइंस के इस मानवीय पहलू की जानकारी सब को मिलनी चाहिए। दुर्भाग्य की बात ये है कि बुज़ुर्ग दंपती के पोते का एक दिन बाद निधन हो गया। लेकिन पायलट ने वो निर्णय नहीं लिया होता तो बुज़ुर्ग दंपती अपने पोते का आखिरी बार मुंह नहीं देख पाते।

ट्रेवल काउंसलर ने एतिहाद के सेल्स मैनेजर को ईमेल कर स्टाफ की प्रशंसा की। एयरलाइंस ने बुज़ुर्ग दंपती को ये सुविधा भी दी कि वो अपने टिकट का भविष्य में कभी ऑस्ट्रेलिया जाने के लिए इस्तेमाल कर सकेंगे। सोशल मीडिया पर भी एयरलाइंस के इस कदम की तारीफ की जा रही है। (hindi.news24online.com)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें