तुर्की के राष्ट्रपति ने 2 सितंबर को म्यांमार में मानवतावादी संकट को हल करने के लिए अपने कजाख, सेनेगल, और नाइजीरियाई समकक्षों से ईद उल अजहा के अभिवादन में मिलकर काम करने के महत्व पर बल दिया.

राष्ट्रपति रसेप तय्यिप एर्डोगन ने कज़ाख के राष्ट्रपति नूरसुल्तान नज़रबायेव, सेनेगल के राष्ट्रपति मैकी सॉल और नाइजीरियाई राष्ट्रपति मुहम्मदु बुहारी के साथ फोन पर बात की.

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमो पर आंग सान सु ने तोड़ी चुप्पी कहा, रोहिंग्या म्यांमार में आतंकी हमलो में शामिल, अन्तराष्ट्रीय दबाव नही झुकेंगे

इससे पहले के सप्ताह में एर्डोगन ने पाकिस्तान, ईरान, मॉरिटानिया, कतर, सऊदी अरब, कुवैत, अजरबैजान और बांग्लादेश के नेताओं के साथ फोन पर म्यांमार के संकट पर भी चर्चा की.

बुहारी के साथ बात करते हुए, एर्डोगन ने भी अज्ञात बीमारी के लिए लंदन में अपने हाल के इलाज के बाद नाइजीरियाई नेता के स्वास्थ्य के लिए सर्वश्रेष्ठ कामना की.

और पढ़े -   व्हाट्सअप पर इस्लाम के लिए अपमानजनक सन्देश भेजने वाले को मिला मृत्युदंड

“तुर्की नेता ने राष्ट्रपति बुहारी को ईद के बधाई दी. दोनों नेताओं ने अपने प्रयासों में एक दूसरे के अच्छे स्वास्थ्य और सफलता की कामना की और अपने दोस्ताना देशों के नागरिकों को शुभकामनाएं दीं.

बयान में कहा गया है, “दोनों नेताओं ने अक्टूबर के अंत में इस्तांबुल में डी 8 के आगामी 9वीं शिखर सम्मेलन, आर्थिक सहयोग के लिए संगठन पर भी चर्चा की.”

और पढ़े -   क़तर अमीर और तुर्की राष्ट्रपति की अंकारा में हुई मुलाक़ात

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE