डाॅक्टर हसन रूहानी ने बुधवार की शाम तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोग़ान के साथ टेलीफ़ोनी वार्ता की. जिसमें उन्होंने कहा कि क्षेत्र के मामलों में तेहरान व अन्कारा द्विपक्षीय सहयोग और इसी तरह अहम क्षेत्रीय विषयों विशेष कर आस्ताना वार्ता प्रक्रिया में तेहरान, अन्कारा व माॅस्को का त्रिपक्षीय सहयोग अत्यधिक महत्वपूर्ण है और क्षेत्र की शांति व स्थिरत के लिए सहायक है।

और पढ़े -   2016 में गौरक्षा के नाम पर बढ़ी है मुस्लिमों पर हिंसा: अमेरिकी विदेशमंत्री

उन्होंने कहा कि पिछले चार बरस में ईरान व तुर्की के संबंधों को अधिक विकसित व प्रगाढ़ करने के लिए अहम क़दम उठाए गए हैं और दोनों देशों के आपसी व्यापारिक लेन-देन की दर वार्षिक 30 अरब डाॅलर तक पहुंचाने के लिए संबंधों और सहयोग में एक ऊंची छलांग की ज़रूरत है।

इस टेलीफ़ोनी वार्ता में तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोग़ान ने राष्ट्रपति निर्वाचित होने पर श्री रूहानी को बधाई दी और कहा कि ईरान व तुर्की के संबंध हमेशा विकास की ओर अग्रसर रहे हैं और इन संबंधों को द्विपक्षीय और क्षेत्रीय स्तर पर अधिक से अधिक मज़बूत बनाना बहुत अहम है।

और पढ़े -   तुर्की के विदेश मंत्री ने घाना के एक गरीब देहाती को भेजा हज पर

उन्होंने दोनों देशों के क्षेत्रीय सहयोग की ओर इशारा करते हुए कहा कि ईरान व तुर्की क्षेत्र की शांति व स्थिरता के लिए रूस व अन्य देशों की सम्मिलिति से आस्ताना वार्ता प्रक्रिया को अधिक तेज़ी से आगे बढ़ा सकते हैं।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE