morsi

तुर्की ने मिस्र के साथ संबंध बहाली को लेकर मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद मुरसी और उनके साथियों को रिहाई की मांग की हैं.

रशिया टुडे के अनुसार तुर्की के राष्ट्रपति रजब तय्यब अर्दोग़ान ने मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद मुरसी और उनके साथियों की रिहाई को अंकाराऔर क़ाहेरा के बीच संबंध के सामान्य होने की शर्त बताते हुए उनकी रिहाई की अपील की हैं.

और पढ़े -   व्हाट्सअप पर इस्लाम के लिए अपमानजनक सन्देश भेजने वाले को मिला मृत्युदंड

उन्होंने मिस्र के वर्तमान राष्ट्रपति अब्दुल फ़तेह अल सीसी पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए कहा कि  “यह व्यक्ति मोहम्मद मुरसी के सत्ताकाल में रक्षा मंत्री था. सोचिए एक देश का रक्षा मंत्री राष्ट्रपति के ख़िलाफ़ विद्रोह करे, यह बात स्वीकार नहीं की जा सकती.”

उन्होंने आगे कहा कि मुरसी, जो 52 फ़ीसद से ज़्यादा मतों से चुने गए थे, अपने बहुत से साथियों के साथ जेल में हैं और उनमें से कुछ को मौत की सज़ा सुनायी गयी है. यह समस्या हल होनी चाहिए और उनके आज़ाद होने की स्थिति में, संबंध सामान्य करने की प्रक्रिया शुरु हो सकती है.

और पढ़े -   रोहिंग्या संकट को लेकर म्यांमार में भेजी जा सकती है सेना, ईरान और पाक सैन्य प्रमुख में हुई बातचीत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE