mursi

काहिरा: मिस्र की एक सैन्य अदालत ने पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी के 296 समर्थकों 25 साल तक की कैद की सजा सुनाई हैं. सभी को ये सजा हिंसा भड़काने के आरोप में  राजधानी काहिरा के पूर्वोत्तर में स्थित इस्लामिया प्रांत की एक अदालत ने सुनाई हैं.

सरकारी समाचार वेबसाइट ‘अल अहराम’ की रिपोर्ट के अनुसार, मुर्सी के प्रतिबंधित संगठन मुस्लिम ब्रदरहुड के प्रमुख मोहम्मद बादी और तीन अन्य को 10-10 साल कैद की सजा सुनाई गई है.

गौरतलब रहें कि मुर्सी को एक साल के शासन के बाद जुलाई 2013 में सेना ने पद से हटा दिया था. साथ ही उनके संगठन मुस्लिम ब्रदरहुड को ब्लैक लिस्टेड किया हुआ हैं.

वहीँ मुर्सी पर फिलिस्तीनी समूह हमास, लेबनानी समूह हिजबुल्ला तथा ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड को कथित तौर पर खुफिया दस्तावेज देने का आरोप हैं. इस मामले में मुर्सी को बीते साल जून में मुर्सी को 25 साल की सजा सुनाई गई थी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें