12_09_2016-meena

इस्लाम में मुल्क से मुहब्बत को ईमान का आधा हिस्सा बताया गया हैं. इसी पर अमल करते हुए हिन्दुस्तान के हाजी हज की अदायगी के दौरान भी अपनी दुआओं में अपने मुल्क को याद रखना नहीं भूलते.

कल से ही पवित्र हज की अदायगी का सिलसिला शुरू हो गया हैं जो तीन दिनों तक चलेगा. इस दौरान हाजी साहेबान हज के फर्ज अदा करेंगे और विशेष पवित्र स्थानों पर इबादत कर इस दुनिया को बनाने वाले एक रब से अपने गुनाहों की माफ़ी तलब करेंगे.

इस साल दुनिया भर से लगभग 20 लाख हाजी पवित्र हज यात्रा पर सऊदी अरब आए हैं. हाजी इहराम पहनकर मक्का से 15 किमी दूर अराफात के मैदान में जमा हो रहे हैं. इस दौरान कई किलोमीटर दूर से कुरान की तिलावत और दुआओं की आवाज सुनी जा सकती हैं.

हाजियों की सुविधा के लिए सऊदी सरकार ने 18 हजार बसों का भी इंतजाम कर रखा है. लेकिन बावजूद इसके बड़ी संख्या में लोग पैदल ही यात्रा कर रहे हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें