सऊदी शासक सलमान ने कहा कि जरूशलम में अल अक्सा मस्जिद को फिर से खोलने को सुनिश्चित करने के लिए व्यक्तिगत रूप से शीर्ष अमेरिकी अधिकारियों से हस्तक्षेप किया है.

एलाफ ऑनलाइन पोर्टल की एक रिपोर्ट के अनुसार, शाह सलमान ने शीर्ष अमेरिकी अधिकारियों से कहा कि पवित्र मस्जिद को दोबारा खोला जाए. रिपोर्ट में एक वरिष्ठ स्रोत का हवाला देते हुए कहा गया है कि इजरायल के प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने अमेरिकी अधिकारियों से वादा किया था कि उन्होंने मस्जिद में यथास्थिति को पुनर्स्थापित करने का फैसला किया है, जो कि मुस्लिम विश्व और यरूशलेम के निवासियों की मांग है.

और पढ़े -   रोहिंग्या मुस्लिमो पर आंग सान सु ने तोड़ी चुप्पी कहा, रोहिंग्या म्यांमार में आतंकी हमलो में शामिल, अन्तराष्ट्रीय दबाव नही झुकेंगे

एलाफ के मुताबिक, नेतन्याहू ने सऊदी अधिकारियों को अल-अक्सा मस्जिद की यात्रा करने और जमीन पर स्थिति को पहले हाथ का आकलन करने के लिए आमंत्रित किया है. इस बीच, सऊदी मंत्रियों ने इजरायल के अधिकारियों द्वारा अल-अक्सा मस्जिद के बंद करने पर गहरी चिंता व्यक्त की है.

सऊदी कैबिनेट ने इस बारें में कहा, यह दुनिया भर के मुस्लिमों की भावनाओं के खिलाफ एक निंदाजनक अपराध है. साथ ही कहा गया कि ये कार्य फिलिस्तीनी क्षेत्रों में स्थिति को और अधिक जटिल करेगा. कैबिनेट ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपनी जिम्मेदारी को निभाने के लिए भी कहा.

और पढ़े -   अलकायदा ने किया मदद का ऐलान, रोहिंग्या बोले नहीं चाहिए आतंकियों से कोई मदद

गौरतलब रहें कि इजरायल अधिकारियों द्वारा प्रवेश द्वार पर मेटल डिटेक्टरों स्थापित करने के विरोध में सोमवार को मुस्लिमों ने पवित्र मस्जिद में प्रवेश नहीं किया. फिलीस्तीनियों ने नए सुरक्षा उपायों को लेकर कहा कि इसराइल पवित्र स्थल पर अधिक नियंत्रण पर जोर दे रहा है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE