सीरिया के संसद सभापति ने कहा है कि कुछ देशों द्वारा सीरिया में जमीनी हस्तक्षेप का लक्ष्य आतंकवादी गुटों का समर्थन है।

Jehad Al-Elham

समाचार एजेन्सी तसनीम की रिपोर्ट के अनुसार सीरिया के संसद सभापति मोहम्मद जेहाद अल्लेहाम ने कहा कि कुछ देशों द्वारा सीरिया में सैनिक भेजने का लक्ष्य परास्त हो चुके आतंकवादी गुटों का समर्थन है।

मोहम्मद जेहाद अल्लेहाम ने स्पष्ट किया कि अगर सऊदी अरब और तुर्की कोई मूर्खतापूर्ण कार्यवाही करते हैं और सीरिया की सरकार की इजाजत के बिना इस देश में ज़मीनी हस्तक्षेप करते हैं तो उनकी ओर नरक का द्वार खुल जायेगा। सीरिया के संसद सभापति ने कहा कि युद्ध विराम और आतंकवाद से मुकाबले का कोई समय नहीं है।

साथ ही उन्होंने तुर्की, क़तर और सऊदी अरब के मुकाबले में विश्व समुदाय से स्पष्ट दृष्टिकोण अपनाये जाने की मांग की जिन्होंने आतंकवाद के माध्यम से सीरिया में प्राक्सी वार छेड़ रखी है। मोहम्मद जेहाद अल्लेहाम ने यूरोपीय सरकारों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों से मांग की है कि वे अपनी ग़लत नीतियों में पुनरविचार करें और अतिवाद एवं आतंकवाद से मुकाबले में इराक और सीरिया की सरकारों का समर्थन करें। (hindkhabar)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें