डोनाल्‍ड ट्रंप ने गुरुवार को रिपब्लिकन राष्‍ट्रपति पद की उम्‍मीदवारी की बहस के दौरान यह बयान दिया।

अमेरिकन राष्‍ट्रपति पद के चुनाव के लिए रिपब्लिकन पार्टी की ओर से प्रत्याशी बनने की दौड़ में शामिल डोनाल्‍ड ट्रंप ने पाकिस्‍तान के परमाणु हथियारों को लेकर चेताया है। उन्‍होंने कहा कि अमेरिका को अफगानिस्‍तान में रूकने की जरूरत है। क्‍योंकि उसके पड़ोसी पाकिस्‍तान के पास परमाणु हथियार हैं जिन्‍हें सुरक्षित करना चाहिए। उन्‍होंने यह बयान गुरुवार को रिपब्लिकन राष्‍ट्रपति पद की उम्‍मीदवारी की बहस के दौरान दिया।

और पढ़े -   ट्रम्प का सऊदी दौरा अरब देशों के कमज़ोर करने और इस्राईल की मदद करने के लिए है

उन्‍होंने कहा, ‘मेरा मानना है कि अफगानिस्‍तान में थोड़े समय के लिए और रूकना होगा। वह पाकिस्‍तान के करीब है। पाकिस्‍तान के पास परमाणु हथियार है और उन्‍हें बचाया जाना चाहिए। परमाणु हथियार माहौल बदल देते हैं।’ बता दें कि पिछले साल ट्रंप ने पाकिस्‍तान को सबसे खतरनाक देश बताया था। एक साक्षात्‍कार में उन्‍होंने कहा था कि पाकिस्‍तान को परमाणुविहीन करना होगा। इस दौरान ट्रंप ने कहा था, ‘आपको इस मामले में भारत को शामिल करना होगा। उनके पास परमाणु हथियार भी है और ताकतवर सेना भी। वे पाकिस्‍तान को रोक सकते हैं।’

और पढ़े -   ट्रम्प ने जिस काम को लेकर की थी मिशेल ओबामा की आलोचना, उसी को मेलानिया ट्रम्प ने अंजाम दिया

वहीं पाकिस्‍तान के वित्‍त मंत्री ने गुरुवार को कहा कि उनका देश परमाणु कार्यक्रम को वापस नहीं लेगा। चाहे कितना ही वित्‍तीय संकट हो और विदेशी कर्ज बढ़ जाए। उन्‍होंने पाकिस्‍तान संसद में सीनेट में यह बयान दिया। उन्‍होंने कहा, ‘हमने यह कार्यक्रम बंद करने के लिए शुरू नहीं किया था। यह हमारी सुरक्षा के लिए है। इसे बचाना राष्‍ट्रीय जिम्‍मेदारी है। पाकिस्‍तान की सभी राजनीतिक पार्टियां हमारे परमाणु कार्यक्रम की स्‍वामी है। यदि हमारा कर्ज 100 बिलियन डॉलर या 100 ट्रिलियन डॉलर हो जाए तो भी यह बंद नहीं होगा।’ (Jansatta)

और पढ़े -   'आले सऊद और अरब देशों के नेताओं ने अमेरिका के हाथों अपना ईमान भी बेच दिया'

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE