अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प सऊदी अरब की यात्रा के साथ अपनी विदेश यात्राओं की शुरुआत कर रहे हैं. ट्रम्प सऊदी अरब की यात्रा के दौरान टीएचएएडी अर्थात टर्मिनल हाई अल्टीट्यूड एरिया डिफ़ेन्स मीज़ाईल तंत्र सहित कई अरब डॉलर के हथियार बेचने का समझोता कर सकते हैं.

ट्रम्प ने अपने पहले विदेशी दौरे पर इस्रईल से पहले सऊदी अरब का सफ़र करने का इरादा किया है. उनका यह क़दम सऊदी अरब की उनकी विदेश नीति में अहमियत दिखाने के लिए है.अमरीका के नए रिपब्लिकन राष्ट्रपति का मध्यपूर्व के अपने मुख्य घटक के साथ संबंध बेहतर करने का इरादा है.

और पढ़े -   अंतर्राष्ट्रीय न्यायाधिकरण ने म्यांमार को 'रोहिंग्याओं के नरसंहार' का दोषी पाया

सऊदी अरब ने पूर्व अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा शासन काल में इसलिए वॉशिंग्टन से दूरी बना ली थी क्योंकि ओबामा प्रशासन ईरान और गुट पांच धन एक के बीच परमाणु समझौता कराने में मुख्य रूप से सक्रिय था.

शुक्रवार को रोयटर ने अज्ञात सूत्र के हवाले से लिखा, ट्रम्प रियाज़ शासन को विभिन्न प्रकार के हथियार की पेशकश कर, अमरीका में उत्पादन के क्षेत्र में रोज़गार पैदा करने के अपने वादे को पूरा करना चाहते हैं.

और पढ़े -   कनाडाई प्रधानमंत्री ने सयुंक्त राष्ट्र के संबोधन में अपनी ही खामियों का किया खुलासा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE