medina_mosque_624x351_zillurrehman

अमेरिकी सेंट्रल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी “सीआईए” के निर्देशक जॉन ब्रेनन ने सऊदी अरब में हुए सिलसिलेवार बम ब्लास्ट के पीछे आईएस के आतंकियों का हाथ बताया हैं.

वाशिंगटन ब्रूकिंग्स संस्थान में एक सम्मलेन के दोरान ब्रेनन ने कहा कि आइएस मध्य पूर्व और सऊदी अरब में शांति के लिए एक गंभीर खतरा है. 15 जून 2015 से ही सऊदी अरब आईएस के निशाने पर हैं. इसी दिन आईएस के आतंकियों ने सऊदी अरब क्षेत्र अरार में आत्मघाती हमला किया था जिसमे सीमा गार्ड के एक कमांडर और दो सऊदी सैनिक मारे गए थे.

और पढ़े -   फिलिस्तीन का साथ देने पर सऊदी और उसके घटक देश दे रहे क़तर को सज़ा

हाल ही में सऊदी अरब के पवित्र शहर मदीना में स्थित मस्जिद ए नबवी के निकट आत्मघाती ब्लास्ट में  19 लोगों को हिरासत में लिया गया जिनमें से 12 पाकिस्तानी थे.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE