हाल ही में कैलाश मानसरोवर की यात्रा पर रोक लगाने के साथ ही चीनी सैनिकों ने भारत की सीमाओं का उल्लंघन कर न केवल भारतीय सैनिकों के साथ दुर्यव्य्व्हार किया था बल्कि भारतीय सेना के बंकर भी नष्ट किये थे. लेकिन अब ने सिक्किम से भारतीय सेना की वापसी तक बातचीत न करने की घोषणा की है.

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कंग ने कहा, ‘हम भारत से सेना को अपनी सीमा में बुलाने का आग्रह कर रहे हैं. सिक्किम सीमा से सेना हटाने तक भारत से सीमा विवाद पर कोई बातचीत नहीं होगी.’ इसके साथ ही चीन ने भारतीय सीमा के नजदीक तिब्बत में एक हल्के वजन वाले युद्धक टैंक का परीक्षण भी किया है.

चीनी सेना के एक प्रवक्ता ने कहा कि चीन ने तिब्बत में भारतीय सीमा के पास एक हल्के युद्धक टैंक के साथ अभ्यास किया है. यह पूछे जाने पर कि क्या यह परीक्षण भारत के खिलाफ है, चीनी सेना के प्रवक्ता ने कहा, ‘यह किसी देश के खिलाफ नहीं है. इसका मकसद केवल टैंक का परीक्षण करना था.’

इसके साथ ही भूटान द्वारा डोकलाम स्थित जोंपलरी में सैनिक कैंप की तरफ चीन को क निर्माण को रोकने के लिए डिमार्श जारी करने के बाद  चीन ने भारत पर गुप्त एजेंडे का आरोप लगाया और कहा- अगर कोई तीसरा पक्ष, गुप्त एजेंडे से, हस्तक्षेप करता है तो यह भूटान की संप्रभुता का अपमान है. हम ऐसा नहीं देखना चाहते क्योंकि भूटान अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा संप्रभुता का हकदार है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE