DEBA14FF-CB08-453C-BC81-364EC7B69585_w987_r1_s

बीजिंग | दुनिया के सबसे ताकतवर देशो में शुमार चीन और अमेरिका के बीच की तल्खी जगजाहिर है. दोनों देश एक दुसरे को नीचा दिखने का कोई मौका नही छोड़ते. इसी तल्खी का एक उदहारण आज देखने को मिला जब अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने चीन की धरती पर कदम रखा. चीन में ओबामा का स्वागत बिलकुल अलग अंदाज में किया गया.

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा का प्लेन फाॅर्स वन जैसे ही चीनी एअरपोर्ट पर लैंड हुआ, चीन के सुरक्षा अधिकारियो ने ओबामा के जहाज को चारो और से घेर लिया. इसके अलावा प्लेन के चारो और एक नीली पट्टी लगा दी गयी. ऐसा ओबामा की सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर किया गया. लेकिन अजीब स्थिति तब बन गयी जब अमेरिका के राष्ट्रिय सुरक्षा सलाहकार इस सुरक्षा व्वयस्था का शिकार हो गए.

दरअसल ओबामा के साथ हमेशा कुछ अमेरिकी रिपोर्टर भी साथ चलते है. जैसे ही ओबामा अपने विमान से नीचे उतरते है वैसे ही ये रिपोर्टर विमान के विंग के नीचे खड़े होकर ओबामा का फोटो खींचते है. लेकिन चीन में जैसे ही ओबामा का विमान लैंड हुआ , चीनी अधिकारियो ने एक नीली पट्टी विमान के चारो और लगा दी. जैसे ही अमेरिकी रिपोर्टर इस नीली पट्टी को पार करने लगें , चीनी अधिकारियो ने उनको ऐसा करने से रोक दिया.

यहाँ तक सब ठीक था लेकिन जैसे ही अमेरिका के राष्ट्रिय सुरक्षा सलाहकार सुजन राइस उस नीली को पीछे करके ओबामा से मिलनी पहुंचे , चीनी अधिकारी राइस से नाराज हो गए. इसी नाराजगी में राइस को चीनी अधिकारी से अंग्रेजी में सुनना पड़ा. चीनी अधिकारी ने राइस के ऊपर चिल्लाते हुए कहा की ‘ यह हमारा देश है और हमारा एअरपोर्ट’. चीनी अधिकारी के ऐसा कहने से वहां एक अजीब स्थिति उत्पन हो गयी. हालाँकि बाद में सब सामान्य हो गया.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें