नज़त बेल्कासेम ने मोरक्को के एक गरीब कट्टरपंथी मुस्लिम परिवार में 1977 में जन्म लिया था. उनके पिता बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन लेबर थे। घर का खर्च भेड़ों का दूध बेचकर चलता था। नज़त दिन में भेड़ चराती थी और शाम को घर वापस आकर अपनी पड़ाई करती थी. नजत के पिता काम की तलाश में फ्रांस चले आये और फिर उन्होंने नजत को भी फ्रांस बुला लिया. नजात ने  2002 में पैरिस इंस्टिट्यूट ऑफ पॉलिटिकल स्टडीज से ग्रैजुएशन किया। ग्रैजुएशन के बाद ही नजत ने सोशलिस्ट पार्टी जॉइन कर ली. इसके बाद उन्होंने नागरिक अधिकारों को लिए कई आन्दोलन किये. उनका नागरिकों को सस्ते घर दिलाने का आंदोलन प्रमुख रहा.

और पढ़े -   लंदन: मस्जिद में बना विश्व का सबसे बड़ा समोसा, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में हुआ दर्ज

नजत ने समानता के लिए भी आंदोलन चलाया. नजत 2008 में रोन अलपाइन से काउंसिल मेंबर चुनी गईं। उसके बाद से वह लगातार चुनाव जीतती आ रही हैं.  2012 में नजत को महिला अधिकार मंत्री बनाया गया. फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने उन्हें सरकार का प्रवक्ता भी नियुक्ति किया. 25 अगस्त 2015 को फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा औलांद ने देश के शिक्षा मंत्री का पद भार सोंपा.

और पढ़े -   ईरान और तुर्की के बीच बढ़ा सैन्य सहयोग, सऊदी अरब हुआ परेशान

नजत एक मूलतः मोरक्कन मुस्लिम महिला हैं लेकिन अब वे फ्रेंच नागरिक हैं। उनका बचपन गरीबी में भेड़ों के झुंड के साथ गुजरा. नजत के बैकग्राउंड, जन्म स्थान और मजहब कीबुनियाद पर आरोप लगाना बहुत आसान था. नज़त के खिलाफ कन्जर्वेटिव पॉलिटिशन सेक्सिस्ट और नस्ली टिप्पणी खूब करते रहे हैं. नजत को कभी ड्रेस को लेकर भद्दी टिप्पणी की जाती थी तो कभी लिपिस्टिक को लेकर लेकिन नजत कभी घबरायी नहीं. आज वो फ्रांस की राजनीति का दुनिया में चमकता चेहरा है।

और पढ़े -   अमेरिकी कांग्रेस: भारत और चीन में होगा युद्ध, अमेरिका के भारत से मजबूत होंगे सामरिक संबंध

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE