ब्रिटेन की प्रसिद्ध प्रोफ़ेसर कैट्रिन हाल ने इस्राईली सरकार के बहिष्कार स्वरुप तीन लाख डाॅलर के पुरस्कार को स्वीकार करने से मना कर दिया हैं. उन्होंने इस्राईल की नीतियों पर आपत्ति जताते हुए कहा कि तेल अवीव की नीतियों के कारण वह इस्राईल से यह पुरस्कार नहीं ले सकतीं हैं.

कैट्रिन हाल, लंदन विश्वविद्यालय में इतिहास की प्रोफ़ेसर हैं जिन्होंने इजराइल की डेन डेविड संस्था के तीन लाख डाॅलर लेने से इन्कार कर दिया हैं. उनका यह फ़ैसला इस्राईल के अंतर्राष्ट्रीय बहिष्कार और इस्राईल में पूंजीनिवेश में कमी बीडीएस आंदोलन से प्रभावित हैं. कैट्रिन हाल ने फ़िलिस्तीनी विश्वविद्यालयों के लिए ब्रिटेन की समिति में एक बयान में कहा था कि उन लोगों से अधिक चर्चा और वार्ता करने के बाद जो इस्राईल और फ़िलिस्तीन के राजनैतिक मामलों में पूरी तरह डूबे हुए हैं, यह पता चला कि उनके दृष्टिकोण बहुत ही अलग हैं. उन्होंने कहा कि इन सब विषयों को ध्यान में रखकर मैंने पुरस्कार लेने से इन्कार कर दिया.

गोरतलब रहें कि न डेविड संस्था हर वर्ष दस लाख डालर का पुरस्कार देती है। कैट्रिन हाल ने 19वीं और 20 शताब्दी में ब्रिटेन और ब्रिटिश राजघराने के बारे में शोध किया था और इस संबंध में वह अपने दो साथियों के साथ यह पुरस्कार जीतने में सफल रही थीं।

 


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें