683035162-bilawal1_6

इस्लामाबाद | पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिन्दुओ पर होने वाले अत्याचार की कहानी किसी से छिपी नही है. पाकिस्तान से हिन्दुस्तान आये हिन्दू, वहां पर उनके साथ होने वाले अत्याचार की कहानी अपनी जुबानी बताते है. वो पाकिस्तान में जाना नही चाहते. लेकिन पाकिस्तान अब अपनी छवि सुधारने की कोशिश में लगा हुआ है. इसकी बानगी इस बार की दिवाली पर देखने को मिली.

पीपीपी (पाकिस्तान पीपल्स पार्टी ) के चेयरमैन बिलावल भुट्टो की तो यही कोशिश दिख रही है. पाकिस्तान में हिन्दुओ को अपनी और खींचने के लिए बिलावल भुट्टो ने इस बार दिवाली पर शिवमंदिर पहुँच सबको चौंका दिया. बिलावल के साथ सिंध की पूरी सरकार शिव मंदिर पहुंची. सिंध के मुख्यमंत्री और पूरी कैबिनेट वहां मौजूद थी.

कराची के क्लिप्टन में स्थित शिव मंदिर पहुंचे बिलावल भुट्टो और सिंध मुख्यमंत्री ने यहाँ पूजा अर्चना की और शिवलिंग पर जल चढ़ाया. दिवाली मानाने शिव मंदिर पहुंचे बिलावल भुट्टो ने मीडिया से बात करते हुए कहा की पाकिस्तान एक शांतिपूर्वक और लोकतान्त्रिक सिद्धांतो को मानने वाला देश है. यहाँ हर धर्म के लोगो को आजादी से जीने का अधिकार है.

बिलावल भुट्टो ने आगे कहा की पीपीपी , पाकिस्तान में अल्पन्संख्यक हिन्दुओ को उनको धार्मिक अधिकारों के साथ जीने का पक्षधर है. पाकिस्तान ने कभी भी , किसी की भी धार्मिक मान्यता पर हमला नही किया. हम इसके खिलाफ है. आतंकवाद पर बोलते हुए बिलावल भुट्टो ने कहा की पाकिस्तान आतंकवाद को किसी भी सूरत में बर्दास्त नही करेगा.

बिलावल ने पाकिस्तान में रहने वाले विभिन्न धर्मो के लोगो का जिक्र करते हुए कहा की पाकिस्तान की तरक्की में सभी धर्मो के लोगो का योगदान रहा है. हमारी पार्टी भी यही मानती है की बिना सभी धर्मो को साथ लिए और बिना उनका विकास किये , पाकिस्तान की तरक्की नही हो सकती.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें