अमेरिका में राष्ट्रपति पद के डेमोक्रेटिक प्रत्याशी ने डोनल्ड ट्रंप के बयानों की कड़ी आलोचना करते हुए उसे अमेरिकी संविधान के विरुद्ध बताया है।
मुसलमानों के संबंध में ट्रंप का बयान क्रोधित करने वाला है
Bernie Sanders ने ब्रसल्ज़ जैसी घटनाओं के बहाने विश्व के मुसलमानों पर हमला करने पर आधारित ट्रंप के बयान को क्रोधित करने वाला और अमेरिकी संविधान के विरुद्ध बताया। समाचार एजेन्सी इर्ना की रिपोर्ट के अनुसार Bernie Sanders ने एक टीवी वार्ता में डोनल्ड ट्रंप को जुएघर का मालिक बताया और कहा कि उन्होंने ब्रसल्ज़ जैसी पीड़ा दायक घटना को मुसलमानों के विरुद्ध घृणा का बीज बोने का बहाना करार दिया है।

Bernie Sanders ने बल देकर कहा कि इस प्रकार का बयान अमेरिकी समाज में भय के विस्तृत होने का कारण बनेगा। अमेरिका में राष्ट्रपति पद के डेमोक्रेटिक प्रत्याशी ने दाइश को घृणात्मक आतंकवादी गुट बताया और कहा कि इस गुट ने पेरिस, अमेरिका और बेल्जियम में मानवता विरोधी अपराध किया है। साथ ही उन्होंने स्पष्ट किया कि दाइश से मुकाबले को उनके देश के संविधान के उल्लंघन का कारण नहीं बनना चाहिये।

और पढ़े -   सऊदी हुकूमत ने रमजान में आने वाले जायरीनों के लिए सर्वोत्तम सेवाएं सुनिश्चित की

Bernie Sanders ने स्पष्ट किया कि विश्व के ट्रंपों को इस बात की अनुमति नहीं दी जानी चाहिये कि वे ब्रसल्ज़ जैसी पीड़ा दायक घटना को पूरे विश्व के मुसलमानों पर हमले का बहाना करार दें। उन्होंने कहा कि यह नहीं कहना चाहिये कि जो भी मुसलमान है वह आतंकवादी है। उन्होंने डोनल्ड ट्रंप के इस प्रकार के बयान को घृणा का बीज बोने और क्रोधित करने वाला बताया।

और पढ़े -   इस्राईली मंत्री ने कान फ़िल्म फ़ेस्टिवल में अपनी ड्रेस के जरिए की मस्जिदुल अक़सा की तौहीन

Bernie Sanders का यह बयान मंगलवार को डोनल्ट ट्रंप के उस बयान की प्रतिक्रिया में सामने आया है जिसमें उन्होंने सीबीएस टीवी के साथ वार्ता में कहा था कि मुसलमानों की मस्जिदों में अनुचित गतिविधियां होती हैं और इसी कारण मस्जिदों की जासूसी आवश्यक है।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE