chin

भारत द्वारा पाक अधिकृत कश्मीर में बसे आतंकवाद के शिकारों को मुआवज़ा देने की पेशकश को लेकर चीन तिलमिला उठा हैं. चीन के सरकारी मीडिया ने मंगलवार को कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सब्र खो चुके हैं, और उन्होंने दुश्मनी के संभावित रुख और लहजे को अपना लिया है.

बलूचिस्तान को लेकर चीन के सरकारी अखबार ‘ग्‍लोबल टाइम्‍स’ की वेबसाइट ने लिखा कि नरेंद्र मोदी बलूचिस्‍तान और पीओके का मामला इसलिए उठा रहे हैं, ताकि कश्‍मीर के तनावपूर्ण माहौल की तरफ से लोगों का ध्‍यान हटाया जा सके.

और पढ़े -   कठिन परिस्थितियों में भी नहीं छोड़ा फिलिस्तीन का साथ, मुसलमानों में फैलाए जा रहे मतभेद: सीरिया

खबर में आगे कहा गया, “भारत और पाकिस्‍तान के रिश्‍तों को फिर से जीवंत बनाने की अनिच्छा से की गई कोशिशों के बाद प्रधानमंत्री के रूप में तीसरे साल में आ चुके नरेंद्र मोदी ने अब संयम खो दिया है और दुश्मनी के पहले से संभावित कट्टर लहजे को अपना लिया है…”

पीओके में भारत द्वारा आतंकवाद के शिकार लोगों को पांच लाख रुपये का मुआवज़ा देने की घोषणा को चीन ने उकसाने वाली कारवाई बताया हैं.

और पढ़े -   तुर्की का क़तर को समर्थन आगे भी जारी रहेगा: रजब तैयब अर्दोग़ान

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE