bah

ओडिशा के कालाहांडी में आदिवासी शख्‍स दाना मांझी को एम्बुलेंस नहीं मिलने के कारण अपनी बीवी की लाश कंधे पर रखकर 12 किलोमीटर पैदल चलने वाली खबर ने अरब मुल्क बहरीन के प्रधानमंत्री की रुंह को झकझोर कर दिया हैं.

गल्फ न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार बहरीन के प्रधानमंत्री ख़लीफ़ा बिन सलमान अल-ख़लीफ़ा ने टी○वी○ पर जब दाना मांझी को पत्नी का शव उठाए 12 कि○मी○ चलते हुए की ख़बर देखी तो उन्हें बहुत अफ़सोस हुआ अौर फिर उन्होंने मांझी मदद करने के लिए उसकी इच्छा व्यक्त की है.

और पढ़े -   इजराइल के ‘युद्ध अपराधों’के खिलाफ फ़िलिस्तीनियों ने खटखटाया अंतरराष्ट्रीय न्यायालय का दरवाजा

45

प्रधानमंत्री ख़लीफ़ा बिन सलमान अल-ख़लीफ़ा के आदेश पर बहरीन प्रधानमंत्री कार्यालय ने भारत स्थित बहरीन दूतावास को संपर्क कर दाना माँझी के परिवार को आर्थिक मदद करने का आदेश दिया.

हालांकि इस बारें में अभी ख़ुलासा नहीं हुआ कि बहरीन प्रधानमंत्री दाना माँझी को मदद के तौर पर कितनी रक़म देने का फैसला किया.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE