france

फ्रांस एक बार फिर दहशत से थर्रा उठा. यहां के नीस शहर में बास्टिल डे का जश्न मना रहे 197 लोगों को ट्रक ने कुचल डाला जिसमे अब तक इस हमले में 80 लोगों की मौत हो गई है. मरने वालों की तादाद लगातार बढ़ रही है और आशंका जताई जा रही है मरने वालों की संख्या इससे ज्यादा हो सकती है.

और पढ़े -   2016 में गौरक्षा के नाम पर बढ़ी है मुस्लिमों पर हिंसा: अमेरिकी विदेशमंत्री

फ्रांसीसी अधिकारियों ने बताया कि हताहत हुए लोग नेशनल डे के मौके पर होने वाली आतिशबाजी देखकर लौट रहे थे. भारतीय दूतावास के मुताबिक, इस हमले में कोई भारतीय हताहत नहीं हुआ है. जिस ट्रक ने लोगों को कुचला उसमें गन, ग्रेनेड जैसे हथियार भरे हुए थे. सुरक्षा बलों ने ट्रक ड्राइवर को मार गिराया है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, ड्राइवर भीड़ से भरी सड़क पर 2 किमी तक लोगों को रौंदते हुए ट्रक चलाता रहा. फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने इसे आतंकी हमला करार दिया है. उन्होंने इसके साथ ही उन्होंने देश में लागू आपातकाल को तीन महीने के लिए बढ़ा दिया है. राष्ट्रपति ओलांद इस हमले के बाद दक्षिणी शहर एविगनन से वापस पेरिस लौट चुके हैं.

और पढ़े -   रोहिंग्या समूह ने कहा – म्यांमार मुस्लिमों के नरसंहार में लगा हुआ

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE