अरब लीग ने लीबिया के मामले में हर प्रकार के विदेशी राजनैतिक व सैन्य हस्तक्षेप का विरोध करते हुवे कहा कि आतंकवाद के विरुद्ध हर प्रकार की सैन्य कार्यवाही, केवल लीबिया की राष्ट्रीय सरकार के अनुरोध पर और संयुक्त राष्ट्र संघ के क़ानूनों के अनुसार होनी चाहिए।

प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार, यूरोपीय संघ के सदस्य देशों ने मिस्र में अपनी आपातकालीन बैठक में एक बयान जारी करके समस्त देशों से मांग की है कि वह लीबिया में सशस्त्र गुटों को हथियार सप्लाई करने, हिंसा में वृद्धि और राजनैतिक प्रक्रिया विफल बनाने के लिए इस देश के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने से बचें।

अरब लीग ने इसी प्रकार दाइश, अलक़ायदा और अन्य गुटों से जिनके नाम आतंकी गुटों की सूची में शामिल हैं, ठोस कार्यवाही की आवश्यकता पर जोर दिया है।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें